मूर्ति ने सप्ताह में 85-90 घंटे काम किया। क्या यह सही दृष्टिकोण है?

मूर्ति: भारतीयों को कार्य संस्कृति को बेहतर बनाने के लिए सप्ताह में 70 घंटे काम करना चाहिए। 

मूर्ति के बयान से सोशल मीडिया पर बहस छिड़ गई। 

विशेषज्ञ: लंबे समय तक काम करने से मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य खराब होता है। 

काम-काज का संतुलन बनाए रखना जरूरी है। 

उचित वेतन और सुरक्षित कार्य वातावरण आवश्यक हैं। 

काम के घंटे उत्पादकता का एकमात्र कारक नहीं हैं। 

एक मजबूत कार्य संस्कृति कर्मचारियों का सम्मान करती है और उन्हें सशक्त बनाती है। 

सफलता के लिए सिर्फ लंबे घंटों से ज्यादा की जरूरत होती है।