गन्ना किसानों के लिए धमाकेदार खुशखबरी: वर्ल्ड बैंक देगा 85% अनुदान, होगी नई पहल!

उत्तर प्रदेश में गन्ना किसानों के लिए विश्व बैंक ने बड़ी पहल की है।

राज्य के गन्ना किसानों के लिए विश्व बैंक अनुदान के तौर पर 220 करोड़ रुपए खर्च करने की तैयारी कर रहा है। 

किसानों को सूक्ष्म सिचाई के लिए मशीन लगाने में विश्व बैंक लागत का 85 फीसदी अनुदान के तौर पर देगा। 

विश्व बैंक द्वारा दी जाने वाली राशि का 15 फीसदी हिस्सा किसानों को निजी चीनी मिलों के द्वारा दी जाएगी।

गन्ना किसानों को सूक्ष्म सिचाई तक पहुंचाने के लिए इस पहल में विश्व बैंक ने 220 करोड़ रुपए का समर्थन किया है।

इस योजना के अंतर्गत, मशीनों की लागत का बड़ा हिस्सा विश्व बैंक द्वारा उठाया जाएगा।

किसानों को निजी चीनी मिलों के साथ यह योजना समर्थन प्रदान करेगी।

विश्व बैंक के द्वारा दी गई राशि की वसूली बाद में होगी।

गन्ना किसानों को नई तकनीकों के साथ सुस्त, सहज और सही तरीके से खेती करने में मदद करेगी।