श्रीराम मंदिर और सीएम योगी को धमकी! बम से उड़ाने का खतरनाक ई-मेल सामने आया…

श्रीराम मंदिर और सीएम योगी को धमकी, सीएम योगी और STF चीफ को बम से उड़ाने की धमकी दिए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. इस भरे गए ई-मेल में भारतीय किसान मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष देवेंद्र तिवारी को एक जान से मारने की धमकी दी गई है. आरोपी ने खुद को आईएसआई से जुड़ा हुआ बताया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अयोध्या दौरे के अगले दिन ही एक सनसनीखेज मामला सामने आया है, जिसमें श्रीराम मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है. इसके साथ ही, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और यूपी एसटीएफ के मुखिया अमिताभ यश को भी बम से मारने की बात कही गई है. एक आरोपी ने ई-मेल के जरिए भारतीय किसान मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष देवेंद्र तिवारी को भेजी गई धमकी में खुद को आईएसआई से जुड़ा हुआ बताया है.

इस मामले में लखनऊ के सुशांत गोल्फ सिटी थाने में एफआईआर दर्ज की गई है. जानकारी के मुताबिक, दिनांक 27 दिसंबर को दोपहर 2:07 पर, भारतीय किसान मंच और राष्ट्रीय गौ परिषद से जुड़े देवेंद्र तिवारी को एक ई-मेल मिला है.

इसमें आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल करते हुए, आरोपी ने अयोध्या में श्रीराम मंदिर, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और एसटीएफ चीफ अमिताभ यश को बम से उड़ाने की धमकी दी है. इस ई-मेल को भेजने वाले का नाम जुबेर हुसैन (खान) बताया जा रहा है.

उसका कहना है कि वह आतंकवादी संगठन आईएसआई से जुड़ा हुआ है और उसे इन तीनों व्यक्तियों के कारण परेशानी हो रही है. इस संबंध में, देवेंद्र तिवारी ने अपने एक्सपोज्ड हैंडल से एक पोस्ट किया था, “राजनीतिक खिलवार से दूर रहें, हमेशा सत्य का साथ दें।”

पेट्रोल पंप 4 दिन बंद, स्कूल-दफ्तर भी बंद, क्या है पूरा सच? जानिए यहाँ

जिसमें उन्होंने लिखा है, ”आज, दिनांक 27 दिसंबर 2023 को दोपहर 2:07 पर, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय योगी आदित्यनाथ जी, एसटीएफ के चीफ श्री अमिताभ यश जी और मुझे फिर से जुबेर खान नामक व्यक्ति द्वारा जान से मारने का ईमेल प्राप्त हुआ है. इसके संबंध में, मैं इस खबर के साथ प्राप्त हुई ईमेल की फोटोकॉपी संलग्न करते हुए शासन और प्रशासन से सुरक्षा की विशेष जांच की मांग करता हूं।

यदि इस पर संज्ञान नहीं लिया गया तो शायद मैं यह मान लूंगा कि मेरा भी नंबर अब इन गैर समुदाय के जिहादी व्यक्तियों द्वारा ब्लैक लिस्ट में डाल दिया गया है। बहुत जल्दी ही मैं भी गौ सेवा के नाम पर शहीद हो सकता हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *