Kasturba Gandhi Vacancy 2024: कस्तूरबा गांधी विद्यालय में भर्ती के लिए कुल कितने पद खुल रहे हैं? जल्दी जानें

Kasturba Gandhi Vacancy 2024 : सरकारी टीचर बनने का सपना देख रहे युवाओं के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी निकल कर सामने आई है। क्योंकि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कस्तूरबा गांधी के विद्यालयों में 3000 से अधिक पदों पर महा बंपर भर्ती होने वाली है। यह भर्ती उत्तर प्रदेश के कुल 442 कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों में होगी।

इस भर्ती में केवल महिलाएं ही आवेदन कर सकती हैं। तो ऐसे में जितने भी उत्तर प्रदेश की इच्छुक महिलाएं हैं और कस्तूरबा गांधी के द्वारा जारी वैकेंसी में अपने ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं, उन सभी को बताने की नीचे हमने इसके बारे में संपूर्ण जानकारी दे रखी है। आप हमारे द्वारा लिखे गए इस लेख को ध्यान से पढ़ें।

Kasturba Gandhi Vacancy Update 2024

स्कूल शिक्षा महानिदेशालय की ओर से प्रस्तावना प्रशासन को भेजा गया है, कि जितने भी कस्तूरबा विद्यालयों में भर्ती होनी हैं, उनकी आवेदन प्रक्रिया जल्द से जल्द शुरू कर दी जाए। अभी हाल ही में पूर्वकालीन, यानी कई समय से विद्यालयों में रहकर छात्रों को पढ़ाया जा रहा है,

जिन्हें 22,500 प्रतिमाह एवं पार्ट टाइम टीचर को 8998 रुपए प्रतिमाह का वेतन दिया जा रहा है। फिलहाल में, पार्ट टाइम जितने भी शिक्षक के क्षेत्र में कार्यरत हैं, उनके मानदेय में बढ़ोतरी के प्रस्ताव को जारी किया गया है।

Kasturba Gandhi Recruitment 2024

यह कस्तूरबा गांधी के आवासीय में बालिका विद्यालय इंटरमीडिएट तक सभी महिलाओं के प्रत्येक पद के लिए साथ-साथ शिक्षकों में होगी। भर्ती सरकार के द्वारा भेजी गई इस नोटिस को फरवरी 2022 तक सभी स्कूलों की जरूरी निर्माण कार्य को पूरा करने दिया जाएगा।

स्कूल के लिए जितने भी फर्नीचर व अन्य सभी जरूरी सामान होंगे, उन सभी को खरीदने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इतना ही नहीं, बल्कि जरूरत के अनुसार कर्मियों की भर्ती भी होगी। प्रत्येक स्कूल में 10-10, यानी कि कुल 4220 कर्मियों की संभावना रखी गई है। फिलहाल में, इन स्कूलों में सिर्फ आठ तक की पढ़ाई की जा रही है। स्कूल के बारे में और सभी जानकारियां नीचे दी गई हैं।

जरूरी सूचनाएं

कस्तूरबा गांधी के विद्यालयों की कुछ खासियतें हैं। इनमें जो सभी आवश्यक फर्नीचर है, वह सभी पहले ही खरीदा जा चुका है। इसके साथ ही, बता दें कि इन विद्यालयों में केवल आठवीं तक की पढ़ाई होती है। प्रत्येक विद्यालय के लिए एक-एक वार्डन निर्धारित किया गया है,

जिसमें एक विद्यालय में नौ शिक्षक, तीन रसोईया, एक चौकीदार, और एक चपरासी तथा एक लेखाकार होंगे। कस्तूरबा गांधी के विद्यालयों में, प्रत्येक कक्षा के लिए 6 से लेकर 8 तक और कक्षा 9 से लेकर इंटरमीडिएट तक, 100 सीटें बालिकाओं के लिए निर्धारित की गई हैं। बालिकाओं के लिए शिक्षा और हॉस्टल सहित सभी सुविधाएं निशुल्क प्रदान की जाएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *