गेहूं की बुवाई में कौन सा खाद डालना चाहिए: एक पूरी जानकारी।

गेहूं की बुवाई में कौन सा खाद डालना चाहिए

परिचय – गेहूं की बुवाई एक महत्वपूर्ण कदम है जो उन्नत और भरपूर पैदावार की सुनिश्चिति करने में मदद करता है। एक महात्वपूर्ण सवाल जो किसानों के मन में उठता है, वह है – “गेहूं की बुवाई में कौन सा खाद डालना चाहिए?” इस लेख में, हम आपको गेहूं की बेहतर पैदावार के लिए सही खाद की महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे।

Table of Contents

खाद का महत्व।

खाद पौधों के सही विकास और पैदावार के लिए आवश्यक होता है। गेहूं की बुवाई में सही समय पर सही खाद का उपयोग करने से पौधों को आवश्यक पोषण प्राप्त होता है, जिससे उनकी मजबूती बढ़ती है और उनमें रोग प्रतिरोध बढ़ता है।

गेहूं की बुवाई में उपयुक्त खाद।

  • नाइट्रोजन-रिच खाद: गेहूं की बुवाई के लिए नाइट्रोजन-रिच खाद उपयुक्त होती है। नाइट्रोजन पौधों के विकास में महत्वपूर्ण होता है और यह उनकी हरितता को बढ़ावा देता है।
  • फॉस्फोरस-रिच खाद: फॉस्फोरस गेहूं की अच्छी बूटिंग (बीज से पौधे की निकलने की प्रक्रिया) के लिए आवश्यक होता है। फॉस्फोरस-रिच खाद पौधों को मजबूत और स्वस्थ बनाती है।
  • कालियम-रिच खाद: कालियम गेहूं के पौधों की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूती प्रदान करता है। यह खाद पौधों को तंतु क्षमता प्रदान करके उन्हें बीमारियों से बचाती है।

खाद डालने का तरीका।

  • सबसे पहले, खेत की भूमि का जाँच करें और उसमें कमी की जांच करें।
  • उपयुक्त खाद की मात्रा को निर्धारित करें और उसे अच्छे से मिश्रण करें।
  • बुवाई के पूर्व खाद को धीरे से बोने, ताकि पौधों को पूरी तरह से पोषण मिल सके।
  • खाद को पौधों के आसपास धीरे से फैलाएं और धकन से ढंक दें।

बुआई के बाद देखभाल।

बुवाई के बाद भी पौधों की देखभाल आवश्यक होती है, निचे दिए निम्नलिखित तरीके से आप पौधों की देखभाल कर सकते हैं:

  • नियमित आवश्यक खादों का प्रयोग करें।
  • पानी देने का समय समय पर और उचित मात्रा में करें।
  • पौधों की सुरक्षा के लिए कीटाणुनाशकों का प्रयोग करें।

इसे भी पढ़ें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *