यूपी गन्ना पर्ची कैलेंडर देखें 2023-24 | UP Ganna Parchi Calendar | caneup

यूपी Ganna Parchi कैलेंडर : सरकार किसानों की सहायता के लिए सतत प्रयास करती है। उत्तर प्रदेश सरकार ने गन्ना पर्ची कैलेंडर ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया है। इस लेख के माध्यम से हम यूपी गन्ना पर्ची कैलेंडर से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। यहाँ तक कि गन्ना पर्ची कैलेंडर क्या है, इसका उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, आवेदन प्रक्रिया, और कैसे Ganna Parchi Calendar देखा जा सकता है। तो दोस्तों, यदि आप यूपी गन्ना पर्ची कैलेंडर से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपसे निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ें।

UP Ganna Parchi Online Calendar 2023-24

यूपी गन्ना पर्ची कैलेंडर 2023-24 के माध्यम से गन्ने की खेती करने वाले किसान अपनी गन्ने की सप्लाई से संबंधित सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इसके साथ ही, वे अपनी चीनी मिल से संबंधित सर्वे, पर्ची, टोल भुगतान, विकास से जुड़ी समस्याएं भी जान सकते हैं।

अब किसानों को गन्ने से संबंधित किसी भी जानकारी को प्राप्त करने के लिए कहीं भी जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। वे घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से Ganna Parchi Calendar से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इस पोर्टल के माध्यम से अब गन्ना किसान काला बाजारी से भी बच सकेंगे। गन्ना पर्ची पोर्टल के माध्यम से प्रणाली में पारदर्शिता आएगी तथा लोगों के समय और पैसे दोनों की बचत होगी।

​गन्ना पर्ची कलेंडर वैबसाइट फैक्टरी खोजे 

गन्ना विभाग की वैबसाइट upcane.gov.in​​/caneup.in व e-Ganna App के अलावा  भी किसान भाई गन्ना कलेंडर पर्ची 2023-24 के आकडे देख पाएंगे । 

चीनी मिल्स की वैबसाइट लिस्ट  :
1-www.kisaan.net
2-www.upsugarfed.org
3-www.krishakmitra.com
4-www.dsclsugar.com
5-www.bhlcane.com
6-www.bcmlcane.in
7-www.bcmlcane.com
8-www.bcmlcane.in/
9-www.gannakrishak.in
10-dwarikesh.com
11-krishakmitra.com 
जनपद व चीनी मिल के हिसाब से पूरी लिस्ट देखे

यूपी गन्ना पर्ची कलैंडर पोर्टल का उद्देश्य

उत्तर प्रदेश सरकार ने यूपी गन्ना पर्ची कैलेंडर को किसानों की सहायता के लिए आरंभ किया है। इस कैलेंडर का मुख्य उद्देश्य राज्य के किसानों को गन्ने को बेचने से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्रदान करना है। पहले किसानों को गन्ने का भुगतान प्राप्त करने के लिए काफी सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता था और उन्हें इन परेशानियों का समाधान करने के लिए सरकारी कार्यालयों के चक्कर लगाने पड़ते थे।

इस बात को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने गन्ना पर्ची कैलेंडर देखने की ऑनलाइन सुविधा आरंभ कर दी है। जिसके माध्यम से अब किसान Ganna Parchi Calendar से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इस पोर्टल के माध्यम से समय और पैसे दोनों की बचत होगी तथा प्रणाली में पारदर्शिता आएगी।

गन्ने का पेमेंट कैसे देखें

यूपी गन्ना किसान पर्ची कैलेंडर और अपने सट्टे से जुड़ी सारी जानकारी caneup.in वेब पोर्टल या e-Ganna एप्लिकेशन डाउनलोड करके मोबाइल के जरिए पता की जा सकती है। मोबाइल पर किसान पर्चियों के अलावा पिछले सालों के गन्ना सप्लाई की जानकारी भी ले सकते हैं। इससे किसानों को कोई काम होने पर गन्ना विभाग या शुगर फैक्टरी के चक्कर नहीं काटने होंगे। गन्ना भुगतान 2024

  • cane up.in ghoshna patra
  • up cane ghoshna patra online apply
  • cane up.in login
  • up cane. gov. in
  • cane up.in 2023-24
  • e ganna up

Details Of Ganna Parchi Calendar 2023-24

आर्टिकल का नामगन्ना पर्ची कैलेंडर कैसे देखें
किसने लांच कियाउत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के किसान
उद्देश्यचीनी मिल तथा गन्ने से संबंधित जानकारी प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइटhttps://caneup.in/Default.aspx
साल2023-24

गन्ना पर्ची कैलेंडर 2023-24 के लाभ तथा विशेषताएं

गन्ना पर्ची कैलेंडर ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से चीनी मिल से संबंधित जानकारी प्राप्त की जा सकती है। इस पोर्टल के माध्यम से किसानों की कई समस्याओं का हल किया जा सकता है। यूपी गन्ना पर्ची कैलेंडर के माध्यम से प्रणाली में पारदर्शिता आएगी। पर्ची की सारी जानकारी सीधे किसान के मोबाइल पर भेजी जाएगी। जिससे कि बिचौलियों का काम खत्म हो जाएगा। इस पोर्टल के माध्यम से किसान गन्ना बेचने से संबंधित सारी जानकारी, सर्वेक्षण डाटा, गन्ने से संबंधित कैलेंडर, मूल कोटा आदि प्राप्त कर सकते हैं।

पोर्टल के माध्यम से लगभग 50 लाख किसानों को लाभ पहुंचेगा। इस पोर्टल के माध्यम से समय और पैसे दोनों की बचत होगी। सरकार द्वारा गन्ना पर्ची कैलेंडर देखने के लिए एक ऐप भी आरंभ किया गया है। ऐप का नाम ई केन ऐप है। इस ऐप को गूगल प्ले स्टोर से गन्ना किसानों द्वारा डाउनलोड किया जा सकता है।

ई-गन्ना एप पर देखें सर्वे का प्रदर्शन, दर्ज करें मोबाइल नंबर

ई-गन्ना एप पर देखें सर्वे का प्रदर्शन, दर्ज करें मोबाइल नंबर। ई-गन्ना एप पर देखें सर्वे का रिकॉर्ड (Ganna Survey 2023-24)। गन्ना विभाग ने किसानों से एप पर मोबाइल नंबर दर्ज करने की अपील की। मोबाइल नंबर दर्ज न होने पर इस बार पर्ची मिलने में आएगी समस्या। गन्ना विभाग ने किसानों द्वारा किए जाने वाले फसल की बुआई के लिए सर्वे पूरा करा लिया है। सर्वे पूरा होने के उपरांत विभाग ने उसका ब्योरा एप पर भी अपलोड करते हुए किसानों से उसे देखने को कहा है।

यह भी कहा गया है कि यदि कहीं से भी कोई समस्या हो तो उसे विभाग से संपर्क कर ठीक करा लिया जाए। एसएमएस पर्ची की व्यवस्था को देखते हुए किसान अपने एप के माध्यम से मोबाइल नंबर भी दर्ज कर दें। गन्ना विभाग ने हाल में पूरा कराए गए सर्वे के उपरांत उसमें आने वाली किसी प्रकार की समस्या को जानने व उसे ठीक कराने के लिए E-Ganna App के माध्यम से सर्वे का प्रदर्शन करने का निर्णय लिया है।

किसानों से कहा गया है कि वे ई-गन्ना एप पर विभाग द्वारा जारी कोड डालकर अपने गन्ने की फसल की बुआई का क्षेत्रफल देख कमी होने की दशा में विभाग को जानकारी दें। यह भी कहा गया है कि इस बार गन्ने की आपूर्ति के लिए एसएमएस पर्ची को ही पंजीकृत मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा। ऐसे में सभी किसान एप पर दिए गए विकल्प पर अपने मोबाइल का पंजीकरण सुनिश्चित करें। इसमें लापरवाही न की जाए, क्योंकि वह किसानों को भारी पड़ जाएगी।

Caneup Ganna Portal

गन्ने का इतिहास

गन्ने का मूल स्थान भारतवर्ष है। पौराणिक कथाओं तथा भारत के प्राचीन ग्रंथों में गन्ना और इससे तैयार की जाने वाली वस्तुओं का उल्लेख पाया जाता है। विश्व के मध्य पूर्वी देशों सहित अनेक स्थानों में भारत से ही इस उपयोगी पौधे को ले जाया गया। प्राचीन काल से गन्ना भारत में गुड़ तथा राब बनाने के काम आता था।

उन्नीसवीं सदी के प्रारंभ में, जब जावा, हवाई, आस्ट्रेलिया, आदि देशों में सफेद दानेदार चीनी का उद्योग सफलतापूर्वक चल रहा था, तब भारतवर्ष में नील का व्यापार उन्नति पर था। जब जर्मनी में रंग बनाने की नई तकनीक विकसित होने पर मन्द पड़ गया।

इस परिस्थिति का लाभ भारत में चीनी उद्योग की स्थापना को मिला। सन् 1920 में भारत के तत्कालीन गर्वनर जनरल ने चीनी व्यवसाय की उज्जवल भविष्य की कल्पना करते हुए इण्डियन शुगर कमेटी की स्थापना की थी। वर्ष 1930 में भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद की गन्ना उप समिति की सिफारिश पर एक ’ टैरिफ बोर्ड ’ की स्थापना की गयी जिसने भारत सरकार से चीनी उद्योग को आरम्भ में 15 वर्षों के लिये संरक्षण देने की सिफारिश की, फलत: भारत में सन् 1931 में चीनी उद्योग को संरक्षण प्रदान किया गया।

उत्तर प्रदेश में यद्यपि देवरिया के प्रतापपुर नामक स्थान पर 1903 में ही भारत की प्रथम प्राचीनत् चीनी मिल स्थापित हो चुकी थी परन्तु गन्ना क्रय-विक्रय की कोई संस्थापित पद्धति के अभाव में गन्ना किसानों को अनेकों कठिनाईयॉं होती थीं। भारत सरकार द्वारा पारित शुगर केन एक्ट 1934 द्वारा प्रदेशीय सरकारों को किसी क्षेत्र को नियंत्रित करते हुये वैक्यूम पैन चीनी मिलों द्वारा प्रयुक्त होने वाले गन्ने के न्यूनतम मूल्य निर्धारित करने के लिये अधिकृत किया गया।

उत्तर प्रदेश में सन् 1935 में गन्ना विकास विभाग विभाग स्थापित हुआ। सरकार ने गन्ना कृषकों की मदद की दृष्टि से ’ शुगर फैक्ट्रीज़ कन्ट्रोल एक्ट 1938 ’ लागू किया। वर्ष 1953-54 में इसके स्थान पर ’ उ0प्र0 गन्ना पूर्ति एवं खरीद विनियमन अधिनियम 1953 ’ लागू हुआ।

गाना पर्ची का sms अपडेट

हम सभी किसानों को बताना चाहते हैं कि कुछ किसान ऐसे भी होते हैं जिनको गन्ना पर्ची का अपडेट सही समय पर नहीं मिल पाता है। इसका मुख्य कारण यह हो सकता है कि किसानों का पंजीकृत नंबर गलत है या फिर किसी गलती के कारण गलत नंबर दर्ज हो गया है, जिसके कारण किसानों को आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

किसानों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है और उनकी गन्ना पर्ची नहीं मिल पाती है। गन्ना पर्ची आने पर किसानों को अपडेट नहीं मिल पाता है। इस वजह से नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके गन्ना स्लिप का अपडेट प्राप्त करें। हमने आपको नीचे जानकारी दी है। ऑफिशियल लिंक भी दिया गया है और नए अपडेट भी दिए गए हैं, जल्दी से जानकारी देखें।

जनपद का नाम चीनी मिल नाम आधिकारिक वेबसाइट
सहारनपुरदेवबन्दwww.kisaan.net/
 सरसावा (सहकारी)www.upsugarfed.org
 ननौता (सहकारी)www.upsugarfed.org
 गागनौलीwww.bhlcane.com
 शेरमऊwww.kisaan.net
मुजफ्फरनगरमन्सूरपुरwww.krishakmitra.com
 खतौलीwww.kisaan.net/
 रोहानाwww.kisaan.net
 मोरना (सहकारी)www.upsugarfed.org
 तितावीwww.kisaan.net
 टिकौलाwww.kisaan.net
 बुढानाwww.bhlcane.com
 खाईखेडीwww.kisaan.net
शामलीऊनwww.kisaan.net
 थानाभवनwww.bhlcane.com
 शामलीwww.kisaan.net
मेरठसकौतीwww.kisaan.net
 दौरालाwww.kisaan.net
 मवानाwww.kisaan.net
 किनौनीwww.bhlcane.com
 नगलामलwww.kisaan.net
बागपतरमाला (सहकारी)www.upsugarfed.org
 मलकपुरwww.kisaan.net
गाज़ियाबादमोदीनगरwww.kisaan.net
हापुड़सिम्भावलीwww.kisaan.net
 ब्रजनाथपुरwww.kisaan.net
बुलन्दशहरअनूपशहर (सहकारी)www.upsugarfed.org
 अगौताwww.kisaan.net
 साबितगढwww.kisaan.net
बिजनौरधामपुरwww.krishakmitra.com
 स्योहाराwww.kisaan.net
 बिजनौरwww.wavesuger.com
 चान्दपुरwww.pbsfoods.in
 स्नेहरोड (सहकारी)www.upsugarfed.org
 बहादुरपुरwww.kisaansoochna.dwarikesh.com
 बरकतपुरwww.kisaan.net
 बुन्दकीwww.kisaansoochna.dwarikesh.com
 बिलाईwww.bhlcane.com
अमरोहाचंदनपुरwww.kisaan.net
 धनुराwww.wavecane.in
 गजरौला (सहकारी)www.upsugarfed.org
मुरादाबादरानीनागलwww.kisaan.net
 बिलारीwww.shreeajudhiasugar.com/
 अगवानपुरwww.dewansugarsindia.com
 बेलवाडाwww.kisaan.net
संभलअसमौलीwww.krishakmitra.com
 रजपुराwww.krishakmitra.com
रामपुरबिलासपुरwww.upsugarfed.org
 मि.नरायनपुरwww.kisaan.net
 करीमगंजwww.kisaan.net
पीलीभीतपीलीभीतwww.lhsugar.in
 बीसलपुर (सहकारी)www.upsugarfed.org
 पूरनपुर (सहकारी)www.upsugarfed.org
 बरखेडाwww.bhlcane.com
बरेलीबहेडीwww.kisaan.net
 सेमिखेरा (सहकारी)www.upsugarfed.org
 मीरगंजwww.krishakmitra.com
 नवाबगंजwww.oswalsugar.com
 फ़रीदपुरwww.kisaansoochna.dwarikesh.com
बदायूँबिसौलीwww.kisaan.org
 बदायूँ (सहकारी)www.upsugarfed.org
कासगंजन्योलीwww.kisaan.org
शाहजहाँपुररोज़ाwww.kisaan.net/
 तिहार (सहकारी)www.upsugarfed.org
 निगोहीwww.kisaan.net
 मकसूदापुरwww.bhlcane.com
 पुवायां (सहकारी)http://www.upsugarfed.org/
हरदोईरूपापुरwww.dsclsugar.com
 हरियावाwww.dsclsugar.com
 लोनीwww.dsclsugar.com
लखीमपुरगोलाwww.bhlcane.com
 ऐराwww.kisaan.net
 पलियाwww.bhlcane.com
 बेलराया (सहकारी)www.upsugarfed.org
 सम्पूर्नानगर (सहकारी)www.upsugarfed.org
 अजबापुरwww.dsclsugar.com
 खम्भारखेडाwww.bhlcane.com
 कुम्भीwww.bcmlcane.com
 गुलरियाwww.bcmlcane.com
सीतापुरहरगाँवwww.kisaan.net
 बिसवाँwww.gannakrishak.in
 महमूदाबाद (सहकारी)www.upsugarfed.org
 रामगढwww.kisaan.net
 जवाहरपुरwww.kisaan.net
फर्रुखाबादकरीमगंजwww.upsugarfed.org
बाराबंकीहैदरगढwww.bcmlcane.in/kisaan-suvidha
फैज़ाबादरोजागांवwww.bcmlcane.in/kisaan-suvidha
 मोतीनगरwww.kisaan.net
अम्बेडकरनगरमिझोडाwww.bcmlcane.in/kisaan-suvidha
सुल्तानपुर (सहकारी)सुल्तानपुरwww.upsugarfed.org
गोण्डादतौलीwww.bcmlcane.in
 कुन्दरखीwww.bhlcane.in
 मैजापुरwww.bcmlcane.in
बहराइचजरवलरोडwww.kisaan.net
 नानपारा (सहकारी)www.upsugarfed.org
 चिलवरियाwww.kisaan.net
 परसेंडीwww.parlesugar.com
बलरामपुरबलरामपुर______
 तुलसीपुरwww.bcml.in
 इटईमैदाwww.bhlcane.in
बस्तीबभनानwww.bcmlcane.in
 वाल्टरगंजwww.bhlcane.com
 रुधौलीwww.bhlcane.com
महाराजगंजसिसवाबाज़ारwww.kisaan.net
 गडोराwww.jhvsugar.in/
देवरियाप्रतापपुरwww.bhlcane.com
कुशीनगरहाटाwww.kisaan.net
 कप्तानगंजwww.kisaan.net
 खड्डाwww.kisaan.net
 रामकोला (पी.)www.kisaan.net
 सेवरहीwww.kisaan.net
मऊघोसीwww.upsugarfed.org
आजमगढ़सठिओं (सहकारी)www.upsugarfed.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *